daribichaogang@gmail.com
A Civic Sensesarcasmsocial message

अरे वंसवाद से आज़ादी ?

अरे वंसवाद से आज़ादी
सामंतवाद से आज़ादी

अरे भुखमरी_से_आज़ादी

आखिर kanhaiya kumar ने

भुखमरी से ग़रीबी से आज़ादी हासिल कर ही ली ?

Share this post

About the author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *