daribichaogang@gmail.com
jummanwaad

Jumman se baat cheet

Jumman se baat cheet

यूपी election – जुम्मानो का मकसद बीजेपी को हराना।

पत्रकार कौन हरा सकता हैं ?
जुम्मन वोटर – सपा

बीजेपी को क्यों हराना हैं ?
जुम्मन वोटर – क्युकी बीजेपी मुस्लिम के खिलाफ हैं।

साथ कौन है?
जुम्मन वोटर – सपा

पत्रकार : आप हिजाब वाले मुद्दे पे क्या कहेंगे ?
अखिलेश : सुनाई ही नहीं देता ऐसे मुद्दे।

पत्रकार जुम्मन से : ओवैसी साहब तो मुस्लिम नेता हैं फिर उनको क्यों नही ?
जुम्मन वोटर – वो तो एजेंट हैं बीजेपी के !
B टीम।

पत्रकार : लेकिन अखिलेश यादव के परिवार के कुछ लोग बीजेपी के साथ हैं, सपा में हमेशा से बीजेपी तथा विश्व हिन्दू परिषद् के नेता जुड़ते रहे है। फिर ओवैसी एजेंट क्यों और अखिलेश आपके मसीह क्यों ?

जुम्मन वोटर – अखिलेश तो बीजेपी के साथ नही हैं , चलो ओवैसी भी एजेंट नही अब ठीक हैं मै अखिलेश के साथ हू क्युकी सपा बीजेपी को हरा सकता हैं।

पत्रकार : आज़म खां जेल मे हैं मुस्लिम नेता हैं सपा ने उनके लिये क्या किया ?

जुम्मन वोटर – वो तो बीजेपी ने झूटा आरोप लगाया हैं
सपा के सरकार बनते वो भी रिहा हो जाएगा देख लेना।

और ओवैसी जी तो हैदराबाद के हैं ना वहाँ तो अपनी सरकार नहीं बनाते ना ही ज्यादा सीट पे चुनाव लड़ते हैं यहाँ बीजेपी हैं तो १०० सीटो पर लड रहे हैं बिहार मे तो देखा ही होगा ओवैसी साहब ने क्या किया यहाँ भी यही करने आए हैं ये हम लोग का इंटरनल मैटर हैं हम लोग देख लेंगे हैदराबाद से आकर कोई बीजेपी का ना मदद करे।

बिहार वाला हाल यूपी मे नही होने देंगे।
सपा ही ठीक हैं, मुस्लिम हित में हैं, क्यों के वो मुस्लिम मुद्दे पर कभी नहीं बोलती और मुस्लिम मुद्दे पर नहीं बोलना ही मुस्लिम हित में होना कहलाता है।
अपने राज्य मे जाए ओवैसी साहब हमारे राज्य मे आकर हमको ना सिखाए।

एक जुम्मन का हमारे पत्रकार से चर्चा करते वक़्त ओवैसी साहब और बीजेपी सपा के बारे मे उनके विचार |

संवाद दाता : जुनैद खान

Share this post

About the author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *