daribichaogang@gmail.com
jummangiri

So called secular party aur jumman

So called secular party aur jumman

किस्तो मे नफरतो का मज़ा हमसे पूछिये ।
हम पे हुई सियासतो का मज़ा हमसे पूछिये ।
गर हम न होते तो दरी न तेरी बिछती ।
फिर भी हुई शिकायतो का मज़ा हमसे पूछिये ।
हो कांग्रेस आप बीजेपी एसपी हो या बीएसपी ।
हुऐ इस्तेमाल कितना ज़रूरतो का मज़ा हमसे पूछिये ।

अर्ज़ किया है :

न तेरे आने की खुशी न अब तेरे जाने का ग़म।
कभी सपा कभी बीजेपी है आना जाना लेकर रक़म।

Share this post

About the author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *