daribichaogang@gmail.com
Uncategorized

Muradab massacre

Muradab massacre

13 अगस्त 1980, आज से ठीक 41 साल पहले ईद के दिन मुरादाबाद में हजारों मुस्लमान नमाज़ पढ़ने ईदगाह गए थे। नमाज़ के दौरान एक सुअर घुस जाने पर वहा पर तैनात पीएसी(PAC) जवानों को निकलवाने के लिए तू तू में में हुई, मामूली झड़प हुई।

उसके बाद तैनात पीएसी(PAC) जवानों ने पूरा तरह से ईदगाह को घेर कर मुसलमानो के खून से ईदगाह को लाल कर दिया गया। पीएसी (PAC) जवानों द्वारा कहीं राउंड गोलियां चलाई गई जिसमे हजारों बेगुनाह मुसलमान शहीद हो गए।

ये कोई हिन्दू मुस्लिम दंगा नहीं था, बल्कि सरकार के द्वारा कराया गया मुसलमानो का “सरकारी-नरसंहार” था।आज तक वहा के मुसलमानो को इंसाफ नहीं मिला।

ईद का दिन खुशी का दिन होता है उस दिन को कांग्रेस ने मुरादाबाद के मुसलमानो के लिए गम मे बदल दिया कांग्रेस ने उस दिन 400 मुसलमानो का हत्या करवाया उस हमले मे मरे लोगो के घरवालो की बद्दुआ है कि कांग्रेस आज विलुप्त हो रही है!

उसके बाद कांग्रेस ने हाशिमपुरा, मलियाना, नेल्ली, जैसे न जाने कितने नरसंहारों के द्वारा बेकुसूर मुसलमानों की हत्या की लेकिन अफसोस कि मुसलमान आज सब कुछ भुल इनको अपना हमदर्द समझ रहा है।

 

Share this post

About the author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *